Khwaab Shayari

Roj Khwaabon Me

Aa Jaate Hain Wo Roj Khwaabon Me,
Jo Kahte Hain Hum To Kahin Jate Hi Nahi.

आ जाते हैं वो भी रोज ख्वाबों में,
जो कहते हैं हम तो कहीं जाते ही नहीं।

New Khwaab Shayari Hindi

Koi Mila Hi Nahin Jis Ko Saupte Mohasin,
Ham Apne Khwaab Ki Khushbu, Khyal Ka Mausam.

कोई मिला ही नहीं जिस को सौपते मोहसिन,
हम अपने ख्वाब की खुशबु, ख्याल का मौसम।

[ Read more Shayari... ]


Advertisement

Tumhen Dekhne Ki Hasrat

Khuda Ka Shukr Hai Ki Usne Khwaab Bana Diye,
Varna Tumhen Dekhne Ki Hasrat Rah Hi Jaati.

खुदा का शुक्र है कि उसने ख्वाब बना दिये,
वरना तुम्हें देखने की हसरत रह ही जाती।

Koi Bataega Kaise Dafnaate Hain Unko,
Wo Khwaab Jo Dil Mein Hi Mar Jate Hain.

कोई बताएगा कैसे दफनाते हैं उनको,
वो ख्वाब जो दिल में ही मर जाते हैं।

[ Read more Shayari... ]


Taabeer Jo Mil Jati

Taabeer Jo Mil Jati To Ek Khwaab Bahut Tha,
Jo Shakhs Ganva Baithe Hai Nayab Bahut Tha,
Mai Kaise Bacha Leta Bhala Kashti-E-Dil Ko,
Dariya-E-Muhabbat Me Sailaab Bahut Tha.

ताबीर जो मिल जाती तो एक ख्वाब बहुत था,
जो शख्स गँवा बैठे है नायाब बहुत था,
मै कैसे बचा लेता भला कश्ती-ए-दिल को,
दरिया-ए-मुहब्बत मे सैलाब बहुत था।

Tabeer Jo Mil Jaati - Khwaab Shayari

[ Read more Shayari... ]


Advertisement

Khwaab Ik Inaayat Hai

Khwaab Baise To Ik Inaayat Hai,
Aankh Khul Jaye To Museebat Hai.

ख़्वाब वैसे तो इक इनायत है,
आँख खुल जाए तो मुसीबत है।

Zeena Muhaal Kar Rakha Hai Meri In Aankhon Ne,
Khuli Ho To Talaash Teri Band Ho To Khwaab Tere.

ज़ीना मुहाल कर रखा है मेरी इन आँखों ने,
खुली हो तो तलाश तेरी बंद हो तो ख्वाब तेरे।

[ Read more Shayari... ]


Khwaabo Mein Pa Kar

Tujhe Khwaabo Mein Pa Kar Dil Ka Karaar Kho Hi Jata Hai,
Main Jitna Rokoon Khud Ko Tujhse Pyar Ho Hi Jata Hai...

तुझे ख्वाबो में पा कर दिल का करार खो ही जाता है,
मैं जितना रोकूँ खुद को तुझसे प्यार हो ही जाता है…

Aa Bhi Jao Meri Aankhon Ke Roobaroo Ab Tum,
Kitna Khwavon Mein Tujhe Aur Talaasha Jaye.

आ भी जाओ मेरी आँखों के रूबरू अब तुम,
कितना ख्वावों में तुझे और तलाशा जाए।

[ Read more Shayari... ]


Advertisement